टेक

Driving Licence Renewal: ड्राइविंग लाइसेंस रिन्यूवल करने का 1 जून से बदल जायेंगा नियम, जानिए अब कैसे होंगा

Driving Licence Renewal: आपका ड्राइविंग लाइसेंस उसकी वैधता खत्म होने पर या उसी दिन रिन्यू करवाना जरूरी होता है. इसके लिए आपको अपने आस-पास के स्थानीय RTO (zonal office) जाना होगा. आमतौर पर, ड्राइविंग लाइसेंस दो तरह के होते हैं –

यह भी पढ़े- Maruti की माइलेज की महारानी, तगड़े फीचर्स के साथ बेहतरीन है परफॉर्मेंस भी, सेफ्टी फीचर्स भी जबरदस्त

निजी (Private): अगर आप निजी गाड़ी चलाते हैं, तो ये लाइसेंस आपके लिए है. इसे बनवाने के बाद 20 साल तक या 50 साल की उम्र (जो भी पहले हो) तक इसे रिन्यू कराने की जरूरत नहीं होती है.
कमर्शियल (Commercial): ये लाइसेंस उन लोगों के लिए होता है जो टैक्सी, ट्रक आदि जैसे व्यावसायिक वाहन चलाते हैं. इसे हर तीन साल में रिन्यू करवाना होता है.
अगर आपका कमर्शियल लाइसेंस है या आपकी उम्र 40 साल पार कर चुकी है, तो लाइसेंस रिन्यू कराते समय आपको डॉक्टर से हेल्थ चेकअप करवाकर मेडिकल सर्टिफिकेट जमा करना होगा.

नए परिवहन नियम (Naye Parivahan Niyam)

आजकल हर कोई गाड़ियों का शौकीन है. आज के समय में बाइक से लेकर कार चलाना आम बात हो गई है. हर कोई अपनी जरूरत या शौक के हिसाब से स्कूटी, स्कूटर, बाइक आदि चलाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि 1 जून से नए परिवहन नियम (New Driving License Rules 2024) लागू होने जा रहे हैं? इन नियमों को तोड़ने पर आपको भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है. साथ ही आपकी परेशानी भी बढ़ सकती है. ऐसी दिक्कतों से बचने के लिए आपको परिवहन और ड्राइविंग लाइसेंस से जुड़े नए नियमों (Driving License New Rules 2024) की पूरी जानकारी होनी चाहिए. आइए जानते हैं इसके बारे में…

जुर्माना 25 हजार रुपये तक हो सकता है ( जुर्माना 25 hazaar rupaye tak ho sakta hai)

बता दें कि सरकारी क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (RTO) 1 जून 2024 से नए वाहन नियम लागू करने जा रहा है. नए नियमों के तहत 18 साल से कम उम्र के लोगों और तेज रफ्तार से गाड़ी चलाने वालों को 25 हजार रुपये तक का जुर्माना भरना पड़ सकता है.

किस को कितना जुर्माना (Kis ko kitna jurmana)

तेज रफ्तार में गाड़ी चलाने पर 1000 रुपये से 2000 रुपये तक का जुर्माना
नाबालिग द्वारा गाड़ी चलाने पर 25 हजार रुपये तक का जुर्माना
बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने पर 500 रुपये का जुर्माना
हेलमेट न पहनने पर 100 रुपये का जुर्माना
सीट बेल्ट न पहनने पर 100 रुपये का जुर्माना
साथ ही, अगर कोई व्यक्ति 18 साल से कम उम्र में गाड़ी चलाता है, तो उसका लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा और उसे 25 साल तक नया लाइसेंस नहीं मिलेगा. इसके अलावा, अन्य नियमों को तोड़ने पर जुर्माने का भी प्रावधान है.

टेस्ट के लिए RTO जाने की जरूरत नहीं (Test ke liye RTO jaane ki जरूरत नहीं)

क्या आप ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना चाहते हैं लेकिन आरटीओ (RTO) में टेस्ट देने से घबराते हैं? तो आपके लिए खुशखबरी है! सरकार अब इस प्रक्रिया को आसान बना रही है.

पहले की स्थिति:

पहले ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए सिर्फ RTO में ही टेस्ट देना होता था. कई लोगों को टेस्ट की वजह से लाइसेंस बनवाने में हिचकिचाहट होती थी.

अब की स्थिति (June 1 से लागू):

अब 1 जून 2024 से आप सरकारी मान्यता प्राप्त विशेष निजी संस्थानों में भी ड्राइविंग लाइसेंस टेस्ट दे सकते हैं. इससे लाइसेंस बनवाने की प्रक्रिया आपके लिए थोड़ी आसान हो सकती है. आप अपनी सुविधा के अनुसार टेस्ट देने का स्थान चुन सकते हैं.

16 साल की उम्र में भी बन सकता है लाइसेंस (16 Saal ki Umar me bhi ban sakta hai Licence)

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि 16 साल की उम्र में भी 50 cc क्षमता वाली मोटरसाइकिल के लिए लाइसेंस बनवाया जा सकता है. हालांकि, 18 साल की उम्र होने पर इस लाइसेंस को अपडेट करवाना जरूरी होगा.

यह भी पढे- Toyota की दमदार SUV जमा रही अपना रंग, तगड़े फीचर्स के साथ माइलेज भी दमदार

ड्राइविंग लाइसेंस की वैधता (Driving Licence ki Validity)

ड्राइविंग लाइसेंस बनने की तारीख से 20 साल तक वैध होता है. 40 साल की उम्र के बाद हर 5 साल और 40 साल से पहले 10 साल बाद लाइसेंस को रिन्यू करवाना जरूरी होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button