मध्यप्रदेश

श्री मोहनखेड़ा महातीर्थ की पावन धरा पर… स्वागत वंदन अभिनंदन

मनावर : (मप्र.) विश्व पूज्य दादा गुरुदेव श्रीमद् विजय राजेंद्रसूरीश्वरजी म.सा. की अंतिम उपासना भूमि मालवा के शत्रुंजय अवतार श्री मोहनखेड़ा महातीर्थ की पावन धरा पर प.पू. गच्छाधिपति आचार्य देव श्रीमद्धिजय ऋषभचंद्रसूरीश्वरजी म.सा के पट्टधर प.पू. मालव केसरी वर्तमान गच्छाधिपति आचार्य देवेश श्रीमद्धिजय हितेशचंद्रसुरीश्वरजी म.सा. का आचार्यपद आरोहण के बाद सर्वप्रथम बार मंगल प्रवेश हो रहा है।

इस अवसर पर मंगल कार्यक्रम के आयोजन किए गए, जिसमें 2 मई प्रातः 8:00 बजे नवकारसी श्री गुरु राजेंद्र इंटरनेशनल स्कूल श्री मोहनखेड़ा में रखा गया है। जिसके लाभार्थी मनावर निवासी समाजरत्न रमेशचंद्र जी धर्म पत्नी स्वर्गीय पुखराज देवी खटोड़ परिवार है। इसकी अगली कड़ी में प्रातः 8:30 मंगल प्रवेश एवं प्रातः 10:30 बजे धर्म सभा तथा प्रातः 11:30 बजे स्वामीवात्सल्य का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। जिसके लाभार्थी श्रीमती पुष्पा सुभाष जी भंडारी, शैलेशकुमार-पंकज कुमार, सचिन-सपना, अभिषेक-वर्षा, मति, लब्धि, धन्वी, जयति, जैनम एवं समस्त भंडारी परिवार मनावर मेघनगर वाले हैं।

श्री मोहनखेड़ा तीर्थ परिचय

वर्तमान अवसर्पणी के प्रथम तीर्थंकर भगवान् श्री ऋषभदेवजी को समर्पित श्री मोहनखेड़ा तीर्थ की गणना आज देश के प्रमुख जैन तीर्थो में की जाती है। मध्यप्रदेश के धार जिले की सरदारपुर तहसील, नगर राजगढ़ से मात्र तीन किलोमीटर दूर स्थित यह तीर्थ देव, गुरु व धर्म की त्रिवेणी है।

मनावर जनक्रांति न्यूज़ फिरोज़ ख़ान आरके सिंघाना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button