कृषि

काजू की खेती कर बन सकते है लाखो के मालिक, फटाफट चेक करे फुल डिटेल

भारत में कुल काजू उत्पादन का 25 प्रतिशत हिस्सा अकेले भारत में ही होता है. इसका व्यापक स्तर पर खेती Kerala, Maharashtra, Goa, Karnataka, Tamil Nadu, Andhra Pradesh, Odisha और West Bengal में की जाती है. हालांकि, अब झारखंड और उत्तर प्रदेश के कई जिलों में भी इसकी खेती की जा रही है.

यह भी पढ़े :- 5G की दुनिया में हाहाकार मचा रहा Realme का सस्ता सुंदर स्मार्टफोन, 108 मेगापिक्सल तगड़े कैमरे के साथ देखे कीमत

अगर आप ऐसा बिजनेस खोज रहे हैं, जिसमें नुकसान की संभावना कम हो और मुनाफा ज्यादा हो, तो हम आपको ऐसा ही बिजनेस आइडिया दे रहे हैं. इसकी बाजार में बहुत ज्यादा मांग है. ये ऐसा प्रोडक्ट है जिसे हर मौसम में, सर्दी, गर्मी, बरसात में खाया जाता है. इसके अलावा बच्चों से लेकर बूढ़े तक सभी इसे बड़े चाव से खाते हैं. इतना ही नहीं, गांवों से लेकर शहरों तक इसकी मांग हमेशा बनी रहती है. हम बात कर रहे हैं काजू की खेती (Cashew Farming) की.

कुछ समय से देश में खेती के तरीकों में काफी बदलाव हुए हैं. अब देश के किसान पारंपरिक खेती को छोड़कर नकदी फसलों पर ज्यादा जोर दे रहे हैं. सरकार भी अपने स्तर पर किसानों को लगातार जागरूक कर रही है. काजू के पेड़ लगाकर किसान अच्छी कमाई कर सकते हैं. काजू की खेती कर बन सकते है लाखो के मालिक, फटाफट चेक करे फुल डिटेल

काजू की खेती कैसे करें? (How to Cultivate Cashew Nuts?)

काजू को सूखे मेवे के रूप में बहुत पसंद किया जाता है. इसका एक पेड़ होता है. पेड़ की लंबाई 14 मीटर से 15 मीटर या उससे भी ज्यादा हो सकती है. इसके पौधे 3 साल में फल देने के लिए तैयार हो जाते हैं. काजू के अलावा, इसकी छिलकों का भी इस्तेमाल होता है. छिलकों से पेंट और स्नेहक बनाए जाते हैं. इसलिए इसकी खेती काफी फायदेमंद मानी जाती है.

काजू का पौधा गर्म तापमान में अच्छी तरह से बढ़ता है. इसकी खेती के लिए उपयुक्त तापमान 20 से 35 डिग्री के बीच होता है. इसके अलावा, इसे किसी भी तरह की मिट्टी में उगाया जा सकता है. फिर भी, इसके लिए लाल बलुई दोमट मिट्टी को बेहतर माना जाता है.

काजू की खेती कहाँ की जाती है? (Where is Cashew Nut Cultivation Done?)

जैसा कि बताया गया है, भारत में काजू की खेती व्यापक स्तर पर की जाती है. कुल काजू उत्पादन का 25 प्रतिशत अकेले भारत से आता है. इसकी अच्छी खेती Kerala, Maharashtra, Goa, Karnataka, Tamil Nadu, Andhra Pradesh, Odisha और West Bengal में होती है.

काजू से कितनी होगी आमदनी? (How Much Income from Cashew?)

काजू का पौधा एक बार लगाने के बाद कई सालों तक फल देता है. पौधे लगाने के समय थोड़ा खर्च आता है. एक हेक्टेयर में 500 काजू के पेड़ लगाए जा सकते हैं. जानकारों की मानें तो एक पेड़ से 20 किलो काजू मिलता है. इस हिसाब से एक हेक्टेयर में 10 टन काजू का उत्पादन होता है. इसके बाद, प्रसंस्करण में थोड़ा खर्च आता है. बाजार में काजू 1200 रुपये किलो के हिसाब से बिकता है. ऐसे में अगर आप ज्यादा संख्या में पौधे लगाते हैं तो न केवल लखपति बनेंगे बल्कि करोड़पति भी बन सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button