सरकारी योजना

CM Khet Suraksha Yojana: इस योजना से खेत की तार फेंसिंग लगाने मिलेगी 50 प्रतिशत तक सब्सिडी, आवारा पशुओं से होंगी खेत की सुरक्षा

CM Khet Suraksha Yojana: प्रदेश में कृषि से जुडी बहुत सी योजनाए सरकार द्वारा चलाई जा रही है. ऐसे में बता दे खेत की सुरक्षा के लिए मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना मध्यप्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है जिसका उद्देश्य किसानों की फसलों को जंगली जानवरों से बचाना है। इस योजना के तहत, किसानों को फेंसिंग, और ट्रेंच सहित विभिन्न प्रकार की बाड़ लगाने के लिए अनुदान दिया जाता है। तो आइये जानते है इसके बारे में…

यह भी पढ़े- PM Ujjwala Yojana: प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में गैस सिलेंडर पर सब्सिडी के लिए नहीं की है KYC तो यह है इसकी अंतिम तारीख

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना में सब्सिडी

इस योजना के तहत अनुदान की बात करे तो बता दे की किसानों को सोलर फेंसिंग लगाने के लिए लागत का 50% या अधिकतम 50,000 रुपये का अनुदान दिया जाता है। आधा खर्च सरकार देती है और आधा खर्च स्वय किसान को उठाना पड़ता है.

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना के लाभ

  • किसानों की फसलों को जंगली जानवरों से बचाता है।
  • इससे आवारा पशुओं द्वारा होने वाली फसल की बर्बादी को रोका जा सकेगा।
  • किसानों की आय में वृद्धि करता है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर पैदा करता है।
  • पर्यावरण संरक्षण में मदद करता है।

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना के लिए पात्रता

  • इस योजना के तहत राज्य के छोटे ओर सीमांत किसानों को ही लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • मध्यप्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • स्वामित्व या पट्टे पर खेती योग्य भूमि होनी चाहिए।
  • यह राशि सीधे किसानों के बैंक खाते में आएगी। 

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना में आवेदन के लिए दस्तावेज

  • आधार कार्ड 
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आवेदक का मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • जमीन की जमाबंदी

यह भी पढ़े- irrigation pipeline subsidy: सिंचाई पाइप लाइन लेने सरकार देंगी 60% सब्सिडी, यहाँ से कर सकेंगे आवेदन

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना में आवेदन कैसे करें

मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए, किसानों को कृषि विभाग की वेबसाइट पर जाना होगा और ऑनलाइन आवेदन पत्र भरना होगा। और अधिक जानकारी के लिए निकटतम कृषि कार्यालय से जानकारी ले सकते है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button