देश- विदेश

EPFO New Update: पीएफ कर्मचारी नया अपडेट देख हो जायेगे खुश, मिलेगी छप्परफाड़ पेंशन

EPFO New Update: दोस्तों, हर साल पीएफ कर्मचारियों को ब्याज देने के अलावा, सरकार एक और शानदार योजना भी चलाती है, जिसके तहत हर महीने पेंशन मिलने का प्रावधान है. नौकरी छोड़ने के बाद, आप जीवन भर पेंशन का लाभ उठा सकते हैं, जिससे किसी भी तरह के खर्च में कोई दिक्कत नहीं होगी. पीएफ जमा करने वाली संस्था का नाम कुछ और नहीं बल्कि ईपीएस (Employee’s Pension Scheme) है, जिसके माध्यम से हर महीने पेंशन देने का काम किया जाएगा.

यह भी पढ़े :- फर्राटेदार लुक से Bajaj की धांसू Pulsar 150 करेगी Apache का मार्केट ढीला, इस कीमत में मिलेंगे शानदार फीचर्स

अगर काम करते समय कर्मचारियों का पीएफ कट रहा है, तो नौकरी के बाद उन्हें हर महीने पेंशन मिल सकती है, जिससे कोई दिक्कत नहीं होगी. इसलिए, यह ज़रूरी है कि पीएफ कर्मचारी कुछ खास बातों को जानें, ताकि बाद में कोई परेशानी न हो.

पीएफ कर्मचारियों से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें (Important Points for PF Employees)

  • काम करते समय, वेतन का एक हिस्सा कंपनी द्वारा पीएफ खाते में भेजा जाता है. कंपनी के योगदान में से 3.67% कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) और 8.33% कर्मचारी पेंशन योजना (EPS) में जमा किया जाता है.
  • पीपीएफ में निवेश करने वालों को ईडीएलआई (EDLI) का लाभ दिया जा रहा है, जिससे सभी के चेहरे पर खुशी है.
  • इस बीच, अगर पीएफ कर्मचारी की मृत्यु हो जाती है, तो नॉमिनी को आसानी से लाभ मिल जाएगा. इतना ही नहीं, नॉमिनी को 7 लाख रुपये तक का बीमा कवर भी दिया जाता है.
  • अगर आप पीएफ खाते में निवेश करते हैं, तो आप आसानी से जान सकते हैं कि आपको कितना पैसा मिलेगा. इसके लिए, ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर निवेशकों को पेंशन कैलकुलेटर की सुविधा दी जाती है. साथ ही, नौकरी और आय के बारे में जानकारी देकर आप आसानी से जांच कर सकते हैं.

पेंशन की गणना कैसे करें (How to Calculate Pension)

  1. पीएफ कर्मचारियों को पेंशन कैलकुलेटर पेज खोलना होगा.
  2. फिर आप अपनी जन्मतिथि और नौकरी ज्वाइन करने की तिथि दर्ज करें. बाकी सभी जानकारियां जैसे छोड़ने की तारीख आदि भरनी होगी.
  3. इसमें पीएफ कर्मचारियों को “Show/Update details” पर क्लिक करना होगा.
  4. फिर कर्मचारी को स्क्रीन पर 58 साल की पूरी तारीख दर्ज करनी होगी और कम पेंशन के लिए 50 साल की उम्र में पेंशन शुरू होने की तारीख की गणना करनी होगी.
  5. इसके बाद, आप चाहें तो 50 साल की उम्र के बाद भी पेंशन का लाभ उठा सकते हैं. जल्दी पेंशन लेने में पेंशन राशि कम हो जाती है. इसमें 58 साल का होने के बाद आपको पूरी पेंशन का लाभ मिलेगा.

यह जानकारी आपको पेंशन से जुड़ी प्रक्रिया को समझने में मदद करेगी. अगर आप और अधिक जानकारी चाहते हैं, तो आप ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट देख सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button