सरकारी योजना

Goat Farming Loan Scheme: बकरी पालन के लिए मिल रहा 50 लाख तक का लोन, ऐसे उठाये लोन का फायदा

Goat Farming Loan Scheme: भारत मुख्य रूप से एक कृषि प्रधान देश है, जहां अधिकांश जनसंख्या ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है। सरकार समय-समय पर किसानों के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं शुरू करती है। हाल ही में, राजस्थान सरकार ने एक बकरी पालन योजना शुरू की है। इस योजना के तहत सरकार 50 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान करेगी।

यह भी पढ़े :- Dairy Farming Loan Scheme: खुद का डेरी फार्म खोले आसानी से, चुटकी बजाते मिलेगा 10 से 40 लाख का लोन

राजस्थान सरकार की प्रमुख योजनाओं में से एक बकरी पालन योजना है। इस योजना के तहत, पशुपालन करने वाले किसानों को बकरी पालन के लिए 50 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाता है। यह योजना ग्रामीण क्षेत्रों में स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण है। इसके माध्यम से, आप छोटे से लेकर बड़े पैमाने के बकरी पालन कार्यों के लिए ऋण प्राप्त कर सकते हैं। यह योजना देश के कई राज्यों में प्रचलित है। कुछ राज्यों में, बकरी पालन ऋण पर 90% तक का सब्सिडी भी उपलब्ध है।

बकरी पालन योजना के उद्देश्य

  • बकरी पालन को बढ़ावा देना।
  • राज्य में रोजगार के अवसर पैदा करना।
  • पशुपालन करने वाले किसानों की आय बढ़ाना।
  • राज्य में बेरोजगारी दर को कम करना।

बकरी पालन योजना के तहत सब्सिडी

इस योजना के तहत दिए जाने वाले ऋणों पर राज्य सरकारों द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाती है। सब्सिडी राज्य के अनुसार भिन्न हो सकती है। उदाहरण के लिए, राजस्थान सरकार 50% की सब्सिडी देती है, जबकि हरियाणा सरकार 90% की सब्सिडी देती है। इसलिए, यदि आप इस योजना के माध्यम से ऋण प्राप्त करते हैं, तो आपको कुल ऋण राशि का 50% या 10% जमा करना होगा।

बकरी पालन ऋण पर ब्याज दर

इस योजना के तहत, ऋण पर लगने वाली ब्याज दर 11.6% है। इस ऋण को बिना गारंटी के ऋण के रूप में जाना जाता है, जिसका अर्थ है कि आपको सुरक्षा के रूप में किसी भी संपत्ति या मूल्यवान संपत्ति को गिरवी रखने की आवश्यकता नहीं है।

बकरी पालन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • निवास प्रमाण
  • भूमि से संबंधित दस्तावेज
  • आय प्रमाण
  • बैंक खाता विवरण

बकरी पालन योजना के लिए आवेदन कैसे करें

  • अपने निकटतम पशु चिकित्सालय का दौरा करें।
  • बकरी पालन योजना के लिए आवेदन फॉर्म प्राप्त करें।
  • आवेदन फॉर्म में आवश्यक जानकारी भरें।
  • आवेदन फॉर्म के साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों की प्रतियां संलग्न करें।
  • आवश्यक दस्तावेजों के साथ आवेदन फॉर्म पशु चिकित्सालय में जमा करें।
  • इसके बाद, एक पशु चिकित्सा अधिकारी आपकी भूमि और बकरी पालन के लिए निर्धारित क्षेत्र का निरीक्षण करेगा।
  • एक निर्धारित प्रक्रिया के बाद, loan amount आपके बैंक खाते में जमा कर दिया जाएगा।

इस सरल प्रक्रिया के माध्यम से, आप राजस्थान बकरी पालन योजना के तहत 50 लाख रुपये तक का ऋण प्राप्त कर सकते हैं। यह ऋण राशि एक निर्धारित अवधि के लिए प्रदान की जाती है, जिसमें राजस्थान सरकार द्वारा 50% सब्सिडी और हरियाणा सरकार द्वारा 90% सब्सिडी का प्रावधान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button