देश- विदेश

Kerala Real New Story:सऊदी अरब में मौत की सजा पाए कैदी की रिहाई के लिए केरल राज्य के लोगों ने 34 करोड़ का चंदा इकट्ठा किया


Kozhikode, April 13, Jankranti News : —- केरल के लोगों ने इंसानियत दिखाई है। केरल राज्य के एक मलयाली कैदी, जो सउदी अरब में मौत की सज़ा पर जेल में बंद था, को छुड़ाने के लिए 34 करोड़ (34 crores) का भारी चंदा इकट्ठा किया गया था। सऊदी अरब में मौत की सजा पाए केरल राज्य के एक भारतीय कैदी की रिहाई के लिए केरल राज्य के लोगों ने मानवता दिखाई। उस कैदी की रिहाई के लिए 34 करोड़ रुपये का भारी चंदा इकट्ठा किया गया था. महज चार दिनों में करीब 24 करोड़ (24 crores) का चंदा इकट्ठा हो गया. यह रकम जल्द से जल्द सऊदी सरकार को सौंप दी जाएगी और अब्दुल रहीम को रिहा कर दिया जाएगा l

केरल के कोझिकोड में अपने गृहनगर फेरोके से, अब्दुल रहीम कुछ साल पहले काम के लिए सऊदी अरब गए थे। अब्दुल रहीम, जो रियाद में एक हाउस ड्राइवर के रूप में काम कर रहे हैं, ने भी वहां ड्राइविंग करते समय एक विकलांग लड़के(Anas Al Shahri’) की सेवा करने के लिए नौकरी ज्वाइन की। हालाँकि, अब्दुल रहीम के कारण 2006 में दुर्घटनावश लड़के( Abdul Rahim accidentally caused Anas Al Shahri’s death)की मृत्यु हो गई। रियाद पुलिस ने मामला दर्ज कर अब्दुल रहीम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. 2018 में स्थानीय अदालत ने उसे मौत की सजा सुनाई. 2022 में हाई कोर्ट में अपील की गई और हाई कोर्ट ने भी फांसी की सजा का फैसला सुनाया. बाद में सुप्रीम कोर्ट में अपील की गई और सुप्रीम कोर्ट ने भी निचली अदालत जैसा ही फैसला सुनाया. नतीजा ये हुआ कि अब्दुल रहीम करीब 18 साल से जेल में सजा काट रहे हैं l

दूसरी ओर, अब्दुल रहीम ने मृत लड़के के परिवार के सदस्यों को ‘माफ़ी’ देने के लिए अनुरोध याचिका दायर की। लड़के के परिवार वालों ने इसके लिए अब्दुल रहीम को माफ करने से इनकार कर दिया. आख़िरकार, पिछले साल अक्टूबर में लड़के के परिवार वाले इस बात पर सहमत हो गए कि अगर अब्दुल रहीम करीब 34 करोड़ रुपये की ब्लड मनी चुका दे तो उसे माफ़ कर दिया जाएगा। कोर्ट ने यह मुआवजा देने की आखिरी तारीख 16 अप्रैल तय की है. लेकिन गरीब अब्दुल रहीम का परिवार इतनी बड़ी रकम (34 करोड़ रुपए) चुकाने में सक्षम नहीं है। इसलिए केरल में उनके दोस्तों ने ‘फंड रेजिंग’ (Fund raising) का बीड़ा उठाया।

चंदा एकत्र करने के लिए तीन सदस्यीय ‘अब्दुल रहीम फंड रेजिंग’ (Fund raising) समिति का गठन किया गया। इसके अलावा ‘सेव अब्दुल रहीम’ (‘Save Abdul Rahim) नाम से एक मोबाइल ऐप भी बनाया गया और चंदा इकट्ठा किया गया। कई लोगों ने स्वेच्छा से विशेष आयोजन किए हैं और ढेर सारा दान एकत्र किया है। समिति के सदस्यों ने कहा कि उन्होंने अब तक 34,45,46,568 करोड़ रुपये एकत्र किये हैं. अब्दुल रहीम की फंड रेजिंग कमेटी के सदस्यों ने सभी से अपील की है कि वे ये दान देना बंद कर दें क्योंकि अब्दुल रहीम की रिहाई के लिए जरूरी 34 करोड़ रुपये इकट्ठा हो चुके हैं. 2021 में शुरू हुआ यह कार्यक्रम मौत की सजा पर अमल से कुछ दिन पहले पूरा किया गया. यह रकम जल्द से जल्द सऊदी सरकार को सौंप दी जाएगी और अब्दुल रहीम को रिहा कर दिया जाएगा l

——- M Venkata T Reddy, News Editor, MP Jankranti News,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button