Madhya Pradesh Assembly Elections 2023 Live Update News, : अगर मध्य प्रदेश में कांग्रेस पार्टी जीतती है, —- मुख्यमंत्री कौन बनेगा, — ?

By
On:
Follow Us
Bhopal, October 10, Jankranti News, :  —- ज्ञात हो कि भारत निर्वाचन आयोग ने 9 अक्टूबर को मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम में चुनाव की तारीखों की घोषणा की थी।  इसके साथ ही सभी प्रमुख राजनीतिक दल चुनाव प्रचार की तैयारी में जुट गए हैं.  वे सीटें और उम्मीदवार भेजने के मामले पर काम कर रहे हैं.  वहीं..ओपिनियन सर्वे के नतीजे भी सामने आ गए हैं.  आगामी चुनाव में किस राज्य में कौन जीतेगा जीत?  किस पार्टी को कितनी सीटें मिलेंगी?  विजय नगाड़ा कौन बजाएगा?  इस विषय पर सर्वेक्षण आ रहे हैं।
 बाकी राज्यों की बात छोड़ दें तो सर्वे के नतीजे आ रहे हैं कि मध्य प्रदेश में बीजेपी और कांग्रेस पार्टियों के बीच कड़ी टक्कर होगी.  इसी संदर्भ में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने दिलचस्प टिप्पणी की है.  उन्होंने विश्वास जताया कि उनकी कांग्रेस पार्टी मध्य प्रदेश में पहले की तुलना में मजबूत हुई है और आगामी चुनाव में उनकी पार्टी 135 से ज्यादा सीटें जीतेगी.  बल्लागुड्डी ने यह भी कहा कि उनकी कांग्रेस पार्टी राज्य में सरकार बनाएगी.  उन्होंने कहा कि बीजेपी की हार अवश्यंभावी है. उन्होंने यह भी आश्वासन दिया कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो वे अभूतपूर्व विकास कार्यक्रम चलाएंगे।
इसी क्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह को मीडिया से एक सवाल मिला.  मीडिया ने पूछा, ‘अगर कांग्रेस पार्टी मध्य प्रदेश में जीतती है…तो मुख्यमंत्री कौन होगा?’  इसके जवाब में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि सीएम पद का नाम कांग्रेस विधायक दल की बैठक में तय होगा, लेकिन उनका मानना ​​है कि कमल नाथ को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा.  इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी मध्य प्रदेश के सीएम उम्मीदवार के रूप में कमल नाथ के नाम की घोषणा की थी.  भोपाल के शाजापुर में आयोजित ‘कांग्रेस जन आक्रोश यात्रा’ में जब मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर कमलनाथ के नाम की घोषणा की गई तो उसी मंच पर मौजूद कांग्रेस नेता कमलनाथ भावुक हो गए।
 दिग्विजय ने आगे कहा.. ”बीजेपी अपने सांसदों को विधानसभा चुनाव में उतार रही है.  इस हिसाब-किताब से ये समझ आ रहा है कि शिवराज सिंह सीन से ‘आउट’ हो गए हैं.  ऐसा लगता है कि बीजेपी का आत्मविश्वास भी कम हो गया है.  इसीलिए.. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को चुनाव प्रचार के तहत चुनाव लड़ना चाहिए?, — या नहीं?  उन्होंने कहा कि वे चुनाव प्रचार सभाओं में पूछ रहे हैं.  उन्होंने कहा कि ‘भ्रष्टाचार’ राज्य की सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है.. उन्होंने आश्वासन दिया कि अगर उनकी सरकार बनी तो भ्रष्टाचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
 —– M Venkata T Reddy, News Editor, MP Janakranti News,
For Feedback - newsmpjankranti@gmail.com

Leave a Comment