कृषि

DAP Urea New Rate: डीएपी और यूरिया के पुराने रेट बदले, देखे एक बोरी यूरिया और डीएपी के नए रेट

DAP Urea New Rate: खेती किसानी की रीढ़ मानी जाती है और इसमें खाद का बहुत बड़ा योगदान होता है. दो सबसे जरूरी खादों में से एक है डीएप (DAP) और दूसरी है यूरिया (Urea). इन दोनों की कीमतों में हाल ही में कुछ उतार-चढ़ाव देखने को मिले हैं, तो आज हम आपको बताएंगे कि मई 2024 के हिसाब से इन खादों की ताजा दरें क्या चल रही हैं.

यह भी पढ़े :- Business Idea: कम बजट में नहीं चल रहा घर खर्चा तो शुरू करे यह धंधा! जल्दी देखने को मिलेगा 8 लाख का मुनाफा

सरकार सब्सिडी देकर करती है मदद

यह बताना जरूरी है कि भारत सरकार किसानों की मदद के लिए डीएपी और यूरिया पर सब्सिडी देती है. इसका सीधा मतलब है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में इन खादों की कीमतें भले ही ऊंची हों, लेकिन किसानों को सब्सिडी के चलते ये खादें कम दाम पर मिल जाती हैं.

DAP की ताजा दरें (DAP Ki Taja Daren)

अभी खबर लिखने के समय, मई 2024 में DAP की कीमतों में थोड़ी स्थिरता देखी जा रही है. आमतौर पर एक बोरी (50 किलो) DAP की कीमत ₹1200 से ₹1900 के बीच चल रही है. हालांकि, यह ध्यान रखना जरूरी है कि हर इलाके में DAP की कीमतों में थोड़ा बहुत फर्क हो सकता है.

यूरिया की ताजा दरें (Yuria Ki Taja Daren)

यूरिया के मामले में भी ऐसा ही है. सब्सिडी के चलते किसानों को यूरिया एक सब्सिडीशुदा रेट पर मिलती है. आमतौर पर एक बोरी (50 किलो) यूरिया की कीमत ₹266.50 के आसपास चल रही है. जैसा कि DAP के लिए बताया गया, हर क्षेत्र में यूरिया की कीमतों में थोड़ा उतार-चढ़ाव हो सकता है.

खाद खरीदते समय इन बातों का ध्यान रखें (Khad Kharidte Samay In Baaton Ka Dhyan Rakhen)

  • हमेशा सरकारी लाइसेंस प्राप्त दुकान से ही खाद खरीदें.
  • खाद खरीदते समय बिल जरूर लें और उसे संभाल कर रखें.
  • खाद की बोरी पर लिखी manufacturing date और expiry date जरूर चेक करें.
  • खाद की मात्रा तय करते समय अपनी फसल और जमीन के हिसाब से करें. ज्यादा खाद डालने से नुकसान भी हो सकता है.

किसान सहायता केंद्र से ले सकते हैं जानकारी (Kisan Sahayata Kendra Se Le Sakte Hain Jankari)

अगर आपको अपने इलाके में DAP और यूरिया की ताजा दरों के बारे में पता लगाना है, तो आप अपने नजदीकी कृषि विभाग कार्यालय या किसान सहायता केंद्र से संपर्क कर सकते हैं. ये विभाग किसानों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button